Bihar Board 10th Hindi Objective
10th 12th Exam Latest News VVI Objective

Bihar Board 10th Hindi Objective 2023,BSEB Cless 10th Hindi Objective & Subjective Question 2023

बिहार बोर्ड से जितने भी स्टूडेंड 2023 में मैट्रिक का परीक्षा देंगे उन सभी स्टूडेंट के लिए ये हिन्द का ऑब्जेक्टिव काफी ज्यादा इम्पोर्टेन्ट है इस ऑब्जेक्टिव को पूरा अंत तक पढ़े और याद कर ले। [Bihar Board 10th Hindi Objective 2023]

hindi objective question 2022 10th,class 10 hindi objective question 2022,hindi ka objective question,class 10th hindi objective question,hindi ka objective 10th class ka,class 10th hindi objective question 2022,hindi v. v. i objective questions 2022,hindi important objective questions 2022,bihar board class10th hindi objective question2022,viral hindi objective,Bihar Board 10th Hindi Objective 2023

 

1. निबंध’ परंपरा का मूल्यांकन के लेखक कौन हैं।

(A) अमरकांत                   (B) रामविलास शर्मा

(C) नलिन विलोचन शर्मा     (D) यतींद्र शर्मा

2 रामविलास शर्मा का निधन कब हुआ था।

(A) 30 मई 2000 ई०

(B) 30 मई 2001 ई०

(C) 30 मई 2002 ई०

(D) 30 मई 2003 ई०

3. साहित्य की परंपरा का पूर्ण ज्ञान इस व्यवस्था में संभव है।

(A) सामन्तवादी व्यवस्था          (B) पूँजीवादी व्यवस्था

(C) समाजवादी व्यवस्था           (D) उपर्युक्त सभी

4.मनुष्यों की साहित्य के निर्माण में प्रतिभाशाली भूमिका है।

(A) नगण्य           (B) निर्णायक

(C) नकारात्मक     (D) इनमें से कोई नहीं

5. जातीय अस्मिता की दृष्टि से इतिहास का प्रवा कैसा है?

(A) विच्छिन्न                                          (B) अविच्छिन्न

(C) विच्छिन्न और अविच्छिन्न दोनों              (D) इनमें से कोई नहीं

6. परंपरा का ज्ञान किनके लिए आवश्यक है

(A) जो लकीर के फकीर हैं।

(B) जो उपयोगी साहित्य की रचना न क

(C) जो लकीर के फकीर न होकर क्रांति

(D) जो उपयोगी साहित्य की रचना नव

7. हिन्दी आलोचना को वैज्ञानिक दृष्टि प्रदान का श्रेय किनको प्राप्त है?

(A) रामविलास शर्मा             (B) नलिन विलोचन शर्मा

(C) अमरकांत                      (D) यतीन्द्र मिश्र

Bihar Board 10th Hindi Objective 2023

8. हिन्दी में जीवनी साहित्य को एक नया आयाम दिया है?

(A) यतीन्द्र मिश्र                 (B) अमरकांत

(C) रामविलास शर्मा           (D) नलिन विलोचन शर्मा

9. साहित्य मुनष्य के संपूर्ण जीवन से संबद्ध है। आर्थिक जीवन के अलावा मुनष्य एक प्राणी के रूप में भी अपना जीवन बिताता है। साहित्य में उसकी बहुत-सी आदिम भावनाएँ प्रतिफलित होती हैं जो उसे प्राणी मात्र से जोड़ती है। यह गद्यांश किस पाठ का है?

(A) आविन्यों                      (B) मछली

(C) शिक्षा और संस्कृति        (D) परंपरा का मूल्यांकन

10.साहित्य की परंपरा का पूर्ण ज्ञान किस व्यवस्था में ही संभव है?

(A) पूँजीवादी व्यवस्था               (B) समाजवादी व्यवस्था

(C) सामन्तवादी व्यवस्था            (D) मार्क्सवादी व्यवस्था

11. विभाजित बंगाल से विभाजित पंजाब की तुलना कीजिए, तो ज्ञात हो जाएगा कि साहित्य की परंपरा का ज्ञान कहाँ ज्यादा है, और इस न्यूनाधिक ज्ञान के सामाजिक परिणाम कहाँ कम है,और इस न्यूनाधिक ज्ञान के सामाजिक परिणाम क्या होते हैं? उपर्युक्त गद्यांश किस पाठ से लिया गया है?

(A) श्रम विभाजन और जातिप्रथा                  (B) विष के दाँत

(C) शिक्षा और संस्कृति                              (D) परंपरा का मूल्यांकन

12. रामविलास शर्मा के अनुसार भारत की राष्ट्रीय क्षमता का पूर्ण विकास किस व्यवस्था में ही संभव है?

(A) समाजवादी व्यवस्था               (B) मिश्रित अर्थव्यवस्था

(C) पूँजीवादी व्यवस्था                  (D) मार्क्सवादी व्यवस्था

13. जो लोग साहित्य में युग परिवर्तन करना चाहते हैं, जो लकीर के फकीर नहीं है, जो रूढ़ियाँ तोड़कर क्रांतिकारी साहित्य रचना चाहते हैं, उनके लिए साहित्य की परंपरा का ज्ञान सबसे ज्यादा आवश्यक है। प्रस्तुत गद्यांश किस पाठ से उद्धृत हैं?

(A) शिक्षा और संस्कृति             (B) परंपरा का मूल्यांकन

(C) नौबतखाने में इवादत             (D) आविन्यों

14. किसने सोवियन संघ पर आक्रमण किया?

(A) महारानी विक्टोरिया                             (B) हिटलर ने

(C) पुतिन ने                                             (D) लेनिन ने
15. यदि मनुष्य परिस्थितियों का नियामक नहीं है तो परिस्थितियाँ भी मनुष्य की-

(A) नियामक है             (B) नियामक नहीं है

(C) सुरक्षा नहीं है             (D) आवश्यकता नहीं है

16. ‘जारशाही’ कहाँ थी ?

(A) रूस में            (B) जापान में

(C) फ्रांस में             (D) चीन में

17. ‘निराला की साहित्य साधना’ के रचनाकार है?

(A) रघुवीर सहाय              (B) अज्ञेय

(C) जायसी                     (D) रामविलास शर्मा

18. ‘साहित्य मनुष्य के संपूर्ण जीवन से संबद्ध है’ —यह पंक्ति किस पाठ से उद्धृत है?

(A) परंपरा का मूल्यांकन           (B) नागरी लिपि

(C) नाखून क्यों बढ़ते हैं               (D) बहादुर

19. रामविलास शर्मा को उनकी किस कृति के लिए ‘साहित्य अकादमी पुरस्कार दिया गया था?

(A) प्रेमचंद और उनका युग                        (B) भाषा और समाज

(C) निराला की साहित्य साधना                    (D) विराम चिह्न

20. सोवियत संघ के लोग हिटलर विरोधी संग्राम को क्या कहते हैं?

(A) महान राष्ट्रीय संग्राम             (B) स्वाधीनता संग्राम

(C) राजनीतिक संग्राम               (D) सामाजिक संग्राम

21. किस व्यवस्था के कायम होने पर जातीय अस्मिता खण्डित नहीं होती वरन् और पुष्ट होती है?

(A) समाजवादी व्यवस्था           (B) पूंजीवादी व्यवस्था

(C) मिश्रित व्यवस्था                 (D) राजनैतिक व्यवस्था

22. भारतीय संस्कृति से किन दो ग्रंथों को अलग कर दें, तो भारतीय साहित्य की आंतरिक एकता टूट जायेगी ?

(A) वेद और पुराण                           (B) रामायण और महाभारत

(C) हरिजन और यंग इंडिया                (D) रघुवंशम् और अभिज्ञान शाकुंतलम्

23. भारत की राष्ट्रीय क्षमता का पूर्ण विकास किस व्यवस्था में ही संभव है?

(A) पूंजीवादी व्यवस्था                 (B) सामंतशाही व्यवस्था

(C) जमींदारी व्यवस्था                 (D) सामाजिक व्यवस्था

24. निबंध है.-

(A) मछली             (B) परम्परा का मूल्यांकन

(C) बहादुर             (D) भारतमाता

25. ‘प्रेमचंद और उनका युग’ किनकी रचना है

(A) गुणाकर मुले                (B) यतीन्द्र मिश्र

(C) रामविलास शर्मा              (D) अमरकांत

26. भारतीय प्रगतिशील लेखक संघ के महामंत्री रहे

(A) भीमराव अंबेदकर               (B) रामविलास शर्मा

(C) अमरकांत                         (D) यतीन्द्र मिश्र

27. अस्मिता का सही अर्थ है

(A) पहचान (अस्तित्व)             (B) मना करना

(C) एकता                             (D) पर्याप्त

 

       जीत  –  जीत मैं निरखता हूं।

 

1. पंडित बिरजू महाराज लखनऊ घराने की किस पीढ़ी के कलाकार हैं?

(A) छठी पीढ़ी            (B) सातवीं पीढ़ी

(C) नौवीं पीढ़ी            (D) आठवीं पीढ़ी

2. पं० बिरजू महाराज का जन्म कहाँ हुआ था?

(A) बनारस              (B) लखनऊ

(C) इलाहाबाद          (D) बक्सर

3. पं० बिरजू महाराज का जन्म कब हुआ ?

(A) 4 फरवरी, 1938       (B) 4 फरवरी, 1937

(C) 4 फरवरी, 1936        (D) 4 फरवरी, 1935

4. ‘जित- जित मैं निरखत हूँ पाठ साहित्य की विधा है—

(A) कहानी           (B) रिपोर्ताज

(C) साक्षात्कार       (D) भाषण

5. बिरजू महाराज के गुरु कौन थे?

(A) उनके पिताजी         (B) चाचा

(C) बड़े भाई              (D) इनमें से कोई नहीं

6. बिरजू महाराज किस शैली के नर्तक है?

(A) कुचिपुड़ी                (B) भरतनाट्यम

(C) मोहिनीअट्टम            (D) कथक

7. बिरजू महाराज की ख्याति किस रूप में है?

(A) नर्तक के रूप में                    (B) तबला वादक के रूप में

(C) शहनाई वादक के रूप में       (D) संतूर वादक के रूप में

8. बिरजू महाराज कौन-सा वाद्य यंत्र बजाते थे?

(A) सितार               (B) गिटार

(C) हरमोनियम         (D) उपर्युक्त सभी

9. बिरजू महाराज का संबंध है-

(A) बाँसुरी वादन से         (B) तबला वादन से

(C) कत्थक नृत्य से          (D) संतूर वादन से

10. बिरजू महाराज अपना सबसे बड़ा जज किसको मानते थे?

(A) बाबुजी को          (C) अम्मा को

(B) चाचाजी को          (D) इनमें से कोई नहीं

11. नृत्य की शिक्षा के लिए पहले-पहल बिरजू महाराज किस संस्था से जुड़े?

(A) न्यू थियेटर्स कंपनी कोलकाता

(B) हिन्दुस्तानी डान्स म्यूजिक दिल्ली

(C) संगीत भारती कंपनी दिल्ली

(D) इनमें से कोई नहीं

12. बिरजू महाराज कितना रुपया नजराना देकर अपने गुरु पिता से गण्डा बंधवाया?

(A) 200 रु०             (B) 400 रु०

(C) 500 रु०             (D) 600 रु०

Bihar Board 10th Hindi Objective 2023

13. बाबुजी के साथ बिरजू महाराज का आखिरी प्रोग्राम कहाँ हुआ था?

(A) जौनपुर             (C) मैनपुरी

(B) कानपुर             (D) देहरादून

14. शागिर्द का अर्थ

(A) गुरु               (B) शिष्य

(D) पिता              (C) मित्र

15. पंडित बिरजू महाराज साल तभी उनके पिता का देहावसान हो गए थे।

(A) पिता का               (B) माँ का

(C) मामा का               (D) भाई का

16. हिन्दुस्तानी डांस म्यूजिक कहाँ है?

(A) कलकत्ता में        (B) मुंबई में

(C) चेन्नई में              (D) दिल्ली में

17. बिरजू महाराज के चाचा का नाम क्या था?

(A) शंभु महाराज            (B) गोदई महाराज

(C) श्री महाराज              (D) विष्णु महाराज

18. शम्भू महाराज, बिरजू महाराज के कौन थे?

(A) मौसा               (B) भाई

(C) चाचा                (D) पिता

19. ‘हलकारे’ का अर्थ होता है

(A) कलाकार                      (B) संदेशवाहक

(C) हल जोतने वाला             (D) गायक

20. जित-जित मैं निरखत हूँ पाठ के केंद्र में है—

(A) विस्मिल्ला खाँ          (B) जाकिर हुसैन

(C) बिरजू महाराज         (D) उपर्युक्त सभी

21. लखनऊ घराने के वंशज और सातवीं पीढ़ी के कलाकार थे

(A) उस्ताद जाकिर हुसैन              (B) उस्ताद बिस्मिल्ला खाँ

(C) पंडित बिरजू महाराज              (D) पंडित रविशंकर महाराज

22. बिरजू महाराज की शादी किस उम्र में हुई थी?

(A) सोलह साल की           (B) अठारह साल की

(C) बीस साल की               (D) बाइस साल की

23. बिरजू महाराज कितने साल के थे जब उनके बाबूजी की मृत्यु हुई थी?

(A) आठ साल                  (B) नौ साल

(C) साढ़े नौ साल               (D) दस साल

24. बिरजू महाराज का अपने बाबूजी के साथ आखिरी प्रोग्राम कहाँ हुआ था?

(A) जौनपुर             (C) मैनपुरी

(B) कानपुर             (D) कलकत्ता

25. किनके साथ नाचते हुए बिरजू महाराज को पहली बार प्रथम पुरस्कार मिला?

(A) अपने बाबूजी के साथ        (B) चाचा शम्भु महाराज

(C) उपर्युक्त दोनों                   (D) इनमें से कोई नहीं

26. बिरजू महाराज को लखनऊ से संगीत भारती कौन लाई ?

(A) निर्मला जोशी                    (B) कपिला जी

(C) लीला कृपलानी                  (D) शम्भु महाराज

 27. बिरजू महाराज की सुयोग्य शिष्या मशहूर नृत्यांगना और रंगकर्म की पत्रिका ‘नटरंग’ की सम्पादक कौन हैं?

(A) कपिला जी                   (B) निर्मला जोशी

(C) लीला कृपलानी             (D) रश्मि वाजपेयी

 

प्रश्न-

(क) देश के स्वतंत्र होने पर क्या किया गया?

(ख) शासन-तंत्र में किस चीज का अभाव है?

(ग) देश की प्रगति में मुख्य बाधा क्या है?

(घ) शासकीय कर्मचारियों को क्या करना चाहिए?
आपात स्थिति का क्या लाभ हुआ?

 

उत्तर-

(क) देश के स्वतंत्र होने पर शासन की ओर से अनेक जन कल्याणकारी योजनाओं का श्रीगणेश किया गया।

(ख) शासन तंत्र में पूरी कार्य-तत्परता का अभाव है।

(ग)देश की प्रगति में मुख्य बाधा कर्मचारियों का कम काम करने का दुराग्रह और भष्ट्राचार है।

(घ) शासकीय कर्मचारियों को शासन की आलोचना न करके जनमत को सरकार के अनुकूल बनाना चाहिए। इससे वे देश के प्रति अपनी भूमिका को अधिक सफलता से निभा सकेंगे।

(ङ) जब से देश में आपात स्थिति की घोषणा की गयी तब से शासकीय कर्मचारी राष्ट्र के प्रति जागरूक हो गये हैं। वे सरकार की खुली आलोचना के बजाय जनमत को सरकार के अनुकूल बनाने में अपनी भूमिका का निर्वहन कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.