Latest Update

Shara India : सहारा इंडिया में आपका भी पैसा फसा है तो निवेशकों के सामने आई  है नई मुसीबत जाने बहुत जरूरी खबर है।

Sahara India Refund : सहारा इंड‍िया के तमाम न‍िवेशकों का पैसा अभी तक नहीं म‍िल पाया है. इस बीच छत्‍तीसगढ़ से एक नया मामला सामने आया है. यहां पर पुल‍िस ने चार डायरेक्‍टर्स के ख‍िलाफ कार्रवाई और उन्‍हें ग‍िरफ्तार कर ल‍िया.

Sahara India Latest Update: अगर आपका पैसा भी सहारा इंड‍िया में फंसा है और उसे न‍िकालने के ल‍िए आप लगातार कोश‍िश कर रहे हैं तो यह खबर आपके ल‍िए जानना जरूरी है सहारा में जितना भी निवेशकों का पैसा है उनको तकलीफ झेल नहीं पड़ेगा क्योंकि भारत सरकार ने इनका बहुत ही जल्द से ले ले लिया जा रहा है ।

ये भी पढ़ें :- सहारा निवेशकों को 7 अक्टूबर को बड़ी खुशखबरी यहां पढ़ें

इसमें न‍िवेश करने वाले ज्‍यादातर लोगों का पैसा अब तक नहीं म‍िला है. लेक‍िन अब छत्‍तीसगढ़ में सहारा और न‍िवेशकों से जुड़ा नया मामला सामने आया है. दरअसल, छत्‍तीसगढ़ के राजनांदगांव में सहारा की तरफ से प्रशासन को जारी क‍िया गया 10 करोड़ रुपये का चेक बाउंस हो गया है. इससे न‍िवेशकों की मुसीबत बढ़ गई है. जिनको कारण पेमेंट करने में कुछ दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है ।

यह भी पढ़ें :  Sahara Latest News : अब हर हाल में पैसा मिलेगा सहारा में निवेशकों को पूरी खबर जाने

आज अचानक डायरेक्टर को किया गया गिरफ्तार

राजनांदगांव के तमाम न‍िवेशकों ने सहारा इंडिया के तहत संचाल‍ित होने वाली विभिन्न संस्थाओं में करोड़ों का न‍िवेश क‍िया था. रकम वापस नहीं म‍िलने पर कोतवाली पुलिस ने सहारा के चार डायरेक्टर्स के ख‍िलाफ मामला दर्ज कर इन चारों को गिरफ्तार कर जेल भेज द‍िया था. चारों आरोप‍ियों को रकम वापसी की शर्त पर अदालत से जमानत मिली. लेक‍िन सहारा की तरफ से प्रशासन को जारी किया गया 10 करोड़ का चेक बाउंस हो गया. कुछ दिनों के भीतर तरीका पेमेंट देने का निर्णय लिया गया है।     

यह भी पढ़ें :  Latest News Shara India 2022 :  सहारा इंडिया के लिए बहुत बड़ी खबर निवेशकों के लिए 2 .31  करोड़ का चेक हुआ जारी सभी को मिलेगा पैसा जल्दी वापस होगा जाने।

Shara India

15 में से 5 कोर खाते में डाले गए पैसा

इस मामले से जुड़े अध‍िकार‍ियों ने बताया क‍ि चेक बाउंस होने के मामले में नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी. सहारा के चार डायरेक्टर्स को कोतवाली पुलिस ने 31 मई को न्यायालय में पेश किया था. यह भी बताया गया क‍ि आरोपी डायरेक्टर्स की तरफ से मामला सामने आने के बाद प्रशासन के खाते में 15 करोड़ रुपये देने की बात कही गई थी. लेक‍िन 5 करोड़ ही खाते में डाले गए. सहारा से जुड़ी कंपनी सहारियन यूनिवर्सल मल्टीपरपरस सोसायटी के आरोपी मोहम्मद खालिद, शैलेष मोहन सहाय को लखनऊ से गिरफ्तार किया गया था.

यह भी पढ़ें :  Pm Kisan Status Check: पीएम किसान की सभी का 12वीं क़िस्त आ गया है चेक करें।।

दूसरी तरफ समाचार पत्रों में सहारा की तरफ से प्रकाश‍ित एक पत्र में दावा क‍िया गया था क‍ि उसने न‍िवेशकों का पैसा सेबी (SEBI) के पास जमा कर द‍िया है. लेक‍िन सेबी का कहना है क‍ि अब तक महज 81.70 करोड़ रुपये के लिए 53,642 ओरिजिनल बॉन्ड सर्टिफिकेट  पास बुक से जुड़े 19,644 आवेदन म‍िले हैं.

प‍िछले द‍िनों व‍ित्‍त राज्‍य मंत्री पंकज चौधरी की तरफ से लोकसभा में जानकारी दी गई थी क‍ि सहारा इंडिया रियल एस्टेट कॉरपोरेशन लिम‍िटेड (SIRECL) ने 232.85 लाख न‍िवेशकों से 19400 करोड़ और सहारा हाउस‍िंग इनवेस्‍टमेंट कॉरपोरेशन ल‍िम‍िटेड (SHICL) ने 75 लाख न‍िवेशकों से 6380 करोड़ रुपये की रकम इकट्ठा की थी.

सहारा से जुड़ी खबरों के लिए हमारे टेलीग्राम से जुड़ जाएं Telegram – Join

Leave a Reply

Your email address will not be published.